Milkha Singh Death कोरोना से संक्रमित होने के कारण से बिगड़ी जायदा तबियत

Milkha Singh Death कोरोना से संक्रमित होने के कारण से बिगड़ी जायदा तबियत

भारत के महान एथलीट Milkha Singh Death  हो गयी हे वह कुछ समय से कोरोना से संक्रमित थे 19 वर्षीय Milkha Singh  को हाल में चंडीगड़ के अस्पताल में भर्ती कराया था 

Advertisement

 

हम आपको बता दे की भारत के महान मिल्खा Milkha Singh का निधन हो गया हे एक महीने से कोरोना से जूझने के बाद शुक्रवार को निधन हो गया हे और इससे पहले उनकी पत्नी और भरतीय वोलीबोल टीम के पूर्व निर्मल कोर ने भी कोरोना संक्रमण  के कारण दम तोड़ दिया था |

Milkha Singh Death

उनके परिवार में उनके बेटे गोल्फर जिव मिल्खा सिंह और तिन बेटिया  हे उनके परिवार के एक प्रवक्ता ने बताया हे , उन्होंने रात 11 .30 पर आखरी संस ली | उनकी हालत शाम को बहुत खराब हो गयी थी  और बुखार के साथ औक्सीजन भी कम हो गयी थी | वह यह जीआईएमईआर  के आईसियु में भर्ती थे |

हम आपको बता दे की उन्हें पिछले महीने कोरोना हुआ था उर बुधवार को उनकी रिपोर्ट नेगटिव आई थी उन्हें जनरल आईसियु में शिफ्ट कर दिया गया था गुरवार की शाम से पहले उनके हालत सही थी | उनकी पत्नी 85 वर्षीय निर्मल का रविवार को एक निजी हस्पताल में उनका निधन हुआ था |

पीएम ने जताया दुःख , पत्र लिखा – हमने महान एथलीट को खो दिया :

महान एथलीट के निधन पर मोदी ने तस्वीर शेयर करते हुए शोक जताया की उन्होंने ट्विट किया – मिल्खा के निधन से हमने एक महान खिलाड़ी को खो दिया , जिसने देश की कल्पना पर कब्जा कर लिया और अनगिनत भारतीय के दिलो में एक विशेष स्थान बना लिया हे |

उन्होंने दुसरे ट्विट में लिखा – अभी कुछ दिन पहले ही मेरी मिल्खा सिंह से बात हुई थी मुझे नही पता था की यह हमारी आखरी बातचीत होगी | कई एथलीट उनकी जीवन यात्रा से ताकत हासिल करेंगे | उनके परिवार और दुनिया भर में कई प्रंशसको के प्रति मेरी संवेदनाए |

मिल्खा सिंह के संघर्ष पर बनी चुकी हे फिल्म :

हम आपको बता दे की मिल्खा सिंह के जीवन पर एक फिल्म भी बन चुकी हे जिसका नाम भी भाग – मिल्खा सिंह भाग था उडन सिख के नाम से फेमस मिल्खा सिंह ने कभी भी हार नही मानी | हालाँकि मिल्खा सिंह ने कहा था की उनके संघर्ष की कहानी उतनी नही दिखाई गयी जितनी उन्होंने झेली हे और हार नही मानी |

बेटा जिव मिल्खा सिंह हे गोल्फर :

हम आपको बता दे की मिल्खा सिंह का बेटा एक गोल्फर हे जो की इंटरनेशनल स्तर में एक जाना माना गोल्फर माना जाता हे जोव ने दो बार एशियन तुर आर्डर ऑफ मेरिट जीता हे उन्होंने साल 2006  और 2008 में यह उपलब्धी हासिल की थी दो बार जितने वाले वह भारत के एक मात्र गोल्फर हे |

एशियाई खेलो में 4 और कोम्वेल्थ गेम्स में एक गोल्ड हे मिल्खा सिंह के नाम :

एशियाई खेलो में 4 स्वर्ण पदक और कोंमनवेल्थ गेम्स में एक गोल्ड मेडल जितने वाले Milkha  Singh  की रफ्तार की पूरी दीवानी थी | फ़्लाइंग सिंह के नाम से महशूर इस धावक को दुनिया के हर कोने से प्यार और समर्थन मिला हे | मिल्खा का जन्म अविभाजित भारत (वर्तमान पकिस्तान ) में हुआ , लेकिन वह आजादी के बाद भारत आ गए थे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *